Facebook को तगड़ा झटका..इस वजह से 3500 करोड़ डॉलर का लगा जुर्माना

Facebook

नई दिल्ली: दिग्गज सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक को तगड़ा झटका लगा है। दरअसल डाटा दुरुपयोग के मामले में फेसबुक की याचिका को अमेरिका की एक अदालत ने खारिज कर दिया है। इस मामले में फेसबुक पर 3500 करोड़ डॉलर का क्लास-एक्शन मुकदमा दायर किया था। खबरों के मुताबिक सैन फ्रांसिस्को में नौ सर्किट वाले न्यायाधीशों की 3 न्यायाधीशीय पैनल ने फेसबुक की याचिका को खारिज कर दिया है। अब मामले की सुनवाई तभी होगी जब सुप्रीम कोर्ट हस्तक्षेप करेगा।

मुकदमे में यह आरोप लगाया गया है कि इलिनोइस के नागरिकों ने अपलोड किए गए अपने फोटो के फेशियल रिकग्निशन संबंधित स्कैन करने की अनुमति नहीं दी और न ही उन्हें इस बात की जानकारी दी गई थी कि 2011 में मैपिंग शुरू होने पर डाटा कितनी देर तक सुरक्षित रहेगा।इसलिए  फेसबुक को 70 लाख लोगों के हिसाब से प्रतिव्यक्ति 1000 से 5000 डॉलर जुर्माने के तौर पर देना होगा। इस तरह से फेसबुक पर लगे जुर्माने की राशि 3500 करोड़ डॉलर हुई।

बता दें कि फेसबुक ने साल 2011 में फेशियल रिकग्निशन संबंधित स्कैन तकनीक का इस्तेमाल किया था, जिसके तहत फेसबुक के यूजर्स से पूछा जाता है कि उनके द्वारा अपलोड की गई तस्वीर में जो लोग टैग किए गए हैं, उन्हें वे जानते हैं या नहीं। वहीं इस मामले में अदालत के न्यायधीशों का कहना है कि फेशियल रिकग्निशन संबंधित स्कैन तकनीक लोगों के निजता पर हमला है। कोर्ट के कागजात के मुताबिक फेसबुक की फेशियल रिकग्निशन तकनीक इलिनोइस के बायोमेट्रिक इंफरेमेशन प्राइवेसी एक्ट यानि बीआईपीए का उल्लंघन करता है।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Don't have account. Register

Lost Password

Register